बिहार कांग्रेस में बढ़ते बगावती सुर, आने वाला समय पार्टी के लिए होगा हानिकारक !

बिहार। सत्तारूढ कांग्रेस पार्टी में इस वक्त खलबली मची हुई है। आए दिन पार्टी की खबरों के चलते पार्टी आलाकमान भी चिंतित हैं। ऐसे में बात की जाए बिहार कि तो यहां कांग्रेस की स्थिति गंभीर बनी हुई है। बिहार नेताओं के अब बागी सुर बागी होते जा रहे हैं। कांग्रेस एमएलसी दिलीप कुमार चौधरी के सुर कुछ ऐसे ही लग रहे हैं। उन्होंने संकेत देते हुए पार्टी आलाकमान पर आरोप लगाया और कहा कि आने वाले कुछ दिनों में बिहार कांग्रेस में एक बड़ी टूट हो सकती है और इसका जिम्मेदार केंद्रीय नेतृत्व होगा।

rahul gandhi and ashok choudhary
rahul gandhi and ashok choudhary

हाल ही में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात कर पार्टी विधायकों ने यह बात रखी थी कि अब आरजेडी के साथ छोड़ कर नए सिरे से शुरुआत करने का वक्त आ गया है। और 2019 लोकसभा चुनाम कांग्रेस अपने दम पर लड़े। यह पहली बार नहीं है कि पार्टी एमएलसी ने पार्टी के खिलाफ हल्ला बोल किया हो। इससे पहले भी भागलपुर से कांग्रेस विधायक अजीत कुमार शर्मा ने पार्टी आलाकमान पर गंभीर आरोप लगाए थे।

उन्होंने कहा था कि बिहार में कांग्रेस का आरजेडी के साथ गठबंधन करने से कोई फायदा नहीं बल्कि नुकसान ही नुकसान हुआ है। उन्होंने भी आरजेडी के साथ गठबंधन को समाप्त करने की राय दी थी। उन्होंने कहा था कि कांग्रेस को आरजेडी के साथ गठबंधन अब समाप्त कर देना चाहिए। दूसरी तरफ सूत्रों के हवाले से खबर है कि कांग्रेस के कई विधायक ऐसे हैं जोकि पार्टी छोड़ नीतीश कुमार से हाथ मिलाकर जेडीयू में शामिल होना चाहते हैं।