पटना एयरपोर्ट पर टला बड़ा हादसा, विमान के इंजन में लगी आग

पटना के जयप्रकाश नारायण इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर शुक्रवार की शाम बड़ा हादसा टला गया। यहां दिल्‍ली जाने वाली इंडिगो विमान में 174 यात्री सवार थे लेकिन टेक-ऑफ के दौरान के इंजन में अचानक से आग लग गई। लेकिन पायलट की सूझबूझ से एक कारण एक बड़ा हादसा होने से टल गया। वही इस हादसे के मद्देनजर पटना आने-जाने वाली सभी फ्लाइट्स को रोक दिया गया। जानकारी के अनुसार बता दें कि विमान के इंजन में अचानक कोई तकनीकी खराबी आ गई, जिस कारण विमान के इंजन में आग लग गई।

पायलट की सूछबूछ के कारण यहां एक बड़ा हादसा होने से टल गया। वही पायलट ने हादसे के वक्त आपातकालीन ब्रेक लगा दिए। जिससे टायर रनवे पर ही फट गया। इस कारण पूरे रन वे पर धुंआ फेल गया। इसके बाद टेक-ऑफ के दौरान पायलट ने इमरजेंसी ब्रेक लगाया। दुर्घटना के दौरान पायलट ने विमान पर नियंत्रण बनाए रखा, अन्‍यथा यात्रियों की जान जा सकती थी। इंडिगो प्रबंधन के अनुसार दुर्घटनाग्रस्‍त फ्लाइट नंबर 6ई 415 के विमान में आग लगने की पुष्टी में कहा गया कि विमान का टायर नहीं फटा था। वही दुर्घटना के बाद यात्रियों को आपातकालीन गेट से बाहर निकाला गया।
एयरपोर्ट अधिकारियों के अनुसार विमान की मरम्‍मत के बाद ही अगली फ्लाइट टेक-ऑफ या लैंड करेगी। दुर्घटना के बाद पटना आ रही सभी फ्लाइट्स को डायवर्ट किया गया है। इस क्रम में रांची से पटना आ रहे राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद की फ्लाइट को भी वापस रांची भेज दिया गया।
इंडिगो की फ्लाइट के बाद जेट एयरवेज की फ्लाइट से संसद के जीएसटी सम्‍मेलन में शामिल होने के लिए दिल्ली जाने वाले पूर्व उपमुख्‍यमंत्री सुशील मोदी, केंद्रीय मंत्री राम कृपाल यादव, रालोसपा सांसद अरुण कुमार समेत कई नेताओं को यात्रा स्थगित करनी पड़ी।

जानकारी के अनुसार हादसे के बाद रनवे करीब तीन घंटे तक बाधित रह। रनवे पर कई सारी फ्लाइट्स को वहां लैंडिग करने की अनुमति नहीं दी गई। वही यह घटना शाम करीब 5.50 बजे की है। लेकिन पायलट की सूझबूझ के कारण एक बड़ा हादसा होने से बच गया और काफी सारे यात्रियों की जान बच गई। वही एमरजेंसी ब्रेक लगाने के बाद विमान करीब 200 मीटर आगे जाकर रुका। जिसके बाद यात्रिकों की विमान के बाहर निकाला गया।