राज्य कर्मियों के लिए ‘भीम आधार पे ऐप’ अनिवार्य

देहरादून। शुक्रवार(14-04-17) को न्यू कैंट रोड़ स्थित सीएम कैम्प कार्यालय परिसर में आयोजित डिजीधन मेला कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में नागपुर में प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी द्वारा ‘भीम आधार पे ऐप’ की शुरूआत व उनके सम्बोधन का सीधा प्रसारण किया गया। कार्यक्रम में प्रतिभाग करते हुए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि राज्य कर्मियों के लिए ‘‘भीम आधार पे ऐप’’ का प्रयोग अनिवार्य किया जाएगा। हमें लैस कैश ट्रांजेक्शन अपनाना होगा। प्रधानमंत्री नरेद्र मोदा सुधारात्मक व शुचितापूर्ण समाज व देश निर्माण की जो शुरूआत की गई है, उसमें हम सभी को योगदान देना है।

रावत ने कहा कि इकोनोमी का डिजीटलीकरण देश को आर्थिक मजबूती देने के साथ ही भ्रष्टाचार को दूर करेगा और राष्ट्रीय सुरक्षा में भी सहायक होगा। डिजीधन आज के युवा भारत की आवश्यकता है। पहले लैस कैश को अपनाना है और फिर कैश लैस समाज की ओर अग्रसर होना है।

उन्होंने कहा कि भीमराव अम्बेडकर ने छूआछूत से रहित, समान अवसर युक्त देश निर्माण की नींव रखी थी। उनके जन्मदिवस के पावन अवसर पर नागपुर में प्रधानमंत्री जी द्वारा भीम आधार पे ऐप की शुरूआत की गई है। इसके पीछे प्रधानमंत्री जी की न्यू इंडिया की सोच है। भारतीय अर्थव्यवस्था में यह ऐतिहासिक साबित होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखण्ड में भी लैस कैश के लिए हरसम्भव प्रयास किया जा रहा है।

देहरादून के मेयर व विधायक विनोद चमोली ने कहा कि नगर निगम में डिजीटल पेमेंट को अपनाया जा रहा है। नगर निगम में स्वैपिंग मशीनें लगाई गई हैं। घर-घर जाकर डिजीटल पेमेंट द्वारा टैक्स वसूली की जा रही है। हाउस टैक्स की प्रक्रिया को भी आॅन लाईन किया जा रहा है।