मेरठ में धार्मिक स्थल पर तोड़फोड़

उत्तरप्रदेश। मेरठ के थाना भावनपुर में धार्मिक स्थल पर तोड़फोड़ करने को लेकर बवाल हो गया और दो पक्ष आमने सामने आ गए। आरोप है की विशेष सम्प्रदाय के लोगों ने हिन्दू युवा वाहिनी के लोगों पर हमला कर दिया जिसमें 3 लोग घायल हो गए हैं। घायलों को मेरठ मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है,
घटना के विरोध में मेरठ गढ़ रोड पर जाम भी लगाया इस दौरान आरोप है की जाम लगा रहे लोगों ने किठौर से मुजफ्फरनगर जा रहे एक स्कॉर्पियो गाड़ी पर हमला कर दिया। हमले में गाड़ी के शीशे तोड़ दिए और हिन्दू संगठन के कार्यकर्ताओ ने मेडिकल कॉलेज में भी जम कर हंगामा किया उनका कहना है की हमारी ही सरकार और हम ही पिट रहे है पुलिस मामले को शांत करने में जुटी हुई है।

 

पूरा मामला मेरठ के थाना भावनपुर क्षेत्र के गांव गोकुलपुर के शिव मंदिर में ग्रामीणों ने पाया की मंदिर की मूर्ति टूटी हुई है और मंदिर का गल्ला भी चोरी हो गया है। सूचना मिलते ही सैकड़ों ग्रामीणों सहित कई हिन्दू संगठन भी मौके पर पहुंच गये और तनावपूर्ण माहौल के चलते बैठक की गई और इसके बाद मूर्ति की दोबारा स्थापना पर सहमति बन गई। शाम के समय हिंदू युवा वाहिनी और अन्य हिंदू संगठन के सदस्य गोकलपुर पहुंचे थे। मूर्ति तोड़ने का विरोध करते हुए बैठक की। बैठक के बाद वापस लौट रहे हिंदू युवा वाहिनी के सदस्यों पर काली नदी पुल के पास गांव के बाहर दूसरे सम्प्रदाय के लोगो ने इनके साथ मारपीट कर दी और पथराव भी किया जिसमें हिन्दू युवा वाहिनी के 4 कार्यकर्ता घायल हो गए घायलो को मेरठ मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है घटना के विरोध में हिन्दू युवा वाहिनी ने मेरठ गढ़ रोड पर जाम लगा दिया जाम के दौरान किठौर से मुजफ्फरनगर जा रही एक स्कॉर्पियो को रोक लिया और उस पर हमला कर दिया जिसमें स्कॉर्पियो गाड़ी के शीशे तोड़ दिए और स्कॉर्पियो सवार व्यक्ति की जमकर पिटाई की गई जिसमे वो घायल हो गया मेरठ मेडिकल कॉलेज में पुलिस के साथ हिन्दू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं की झड़प भी हुई उनका कहना था की हमारी सरकार में हम ही पिट रहे है

फिलहाल पुलिस मामले को शांत करने के प्रयास में जुटी है और मोके पर कई थानों की पुलिस और पीएसी तैनात की गई है। अभी इस घटना पर कोई भी अधिकारी कुछ भी बताने से इंकार कर रहे है।