कैविटी से दांतो को बचाने के लिए अपनाएं ये तरीके…

नई दिल्ली। अक्सर देखा जाता है कि ज्यादा मीठा खाने वाले लोग कैविटी से परेशान रहते हैं दांतों में सड़न या कैविटी की परेशानी सिर्फ आपके आत्मविश्वास को ही नहीं खत्म करती बल्कि कम उम्र में दांतो के टूटूने का कारण भी हो सकती है। ज्यादा चीनी का सेवन करने से ये परेशानी बढ़ती जाती है। मीठा खाने के बाद अगर दांतो की सफाई अच्छे से न की जाए तो उसमें बैक्टीरिया पनपने लगते हैं। इसी से दांतों की ऊपरी परत खराब होने लगती है जिसे कैवटी कहते हैं। इस परेशानी से खुद को और अपने परिवार को दूर रखने के लिए ये घरेलू उचार अपनाए जा सकते हैं-

– अगर आपको स्वस्थ दांत चाहिए तो इसके लिए आपको अपने खाने पीने में थोड़ा नियंत्रण रखना पड़ेगा, कैविटी से बचने के लिए चीनी, चाॅकलेट, कैंडी, आइसक्रीम से दूर रहने की कोशिश करें क्योंकि इसमें भरपूर मात्रा में चीनी होती है।

– कैविटी से बचने के लिए सब्जियां, नारियल तेल और एवोकैडो खाएं इससे दांतों में जल्दी कैवटी की तकलीफ नहीं होती और दांत स्वस्थ रहते हैं।

– इसके अलावा कोशिश करें कि अच्छे टूथपेस्ट का इस्तेमाल करें, आजकल बाजार में कई तरह के टूथपेस्ट आ गए हैं लेकिन दांतो के लिए कौन सा सही है इसका पता करने के लिए डेन्टिस्ट से जरूर कंसल्ट करें।

– गर्माी या बाहर से आते ही ठंडा पानी न पीएं इससे भी दांतो को खतरा हो सकता है।

– जिन लोगों को इस तरह की परेशानी रहती है उन्हें कोशिश करनी चाहिए कि रात में सेने से पहले ब्रश जरूर करें।

– दांतों में कोई समस्‍या न भी हो तो उसकी समय समय पर जांच कराएं। लेकिन अगर कोई समस्‍या जैसे दांतों में दर्द, मसूड़ों से खून आना, मुह से बदबू तो दंत चिकित्‍सक के पास जरूर जाए। प्रत्येक 6 महीने में एक बार दंत चिकित्सक के पास जाकर दांतों की जांच कराना ठीक रहता है।