लड़खड़ा कर संभली टीम इंडिया, ऑस्ट्रेलिया को दिया 282 रनों का लक्ष्य

नई दिल्ली। भारतीय टीम और ऑस्ट्रेलिया के बीच चेन्नई के चेपॉक स्टेडियम में हाई वोल्टेज मैच का आगाज हो गया है। पहले टॉस जीत कर मैदान में बेटिंग करने उतरी भारतीय टीम की शुरूआत बेहतर नहीं रही 11 रन के स्कोर पर धड़ाधड़ उसके 3 विकेट गिर गए। हांलाकि हार्दिक पांड्या ने 83 और महेन्द्र सिंह धोनी ने 79 रनों के शानदार पारी खेलते हुए भारतीय टीम को 281 रनों के लक्ष्य तक पहुंचा कर विरोधी ठीम को 282 का लक्ष्य दे दिया है। 50 ओवरों के मैच में भारतीय टीम ने 7 विकेट पर 281 रन बनाए हैं।

भारतीय टीम में अजिंक्य रहाणे और मनीष पांडे को जहां शामिल किया है वहीं ऑस्ट्रेलिया की ओर से हिल्टॉन कार्टराइट ने इस वन डे मैच से अपना डेब्यू भी किया है। ऑस्ट्रेलिया की टीम में जेम्स फॉकनर और नाथन कुल्टर नाइल की भी वापसी हुई है। जिसके बाद अब मैच कांटे का हो गया है। भारतीय कप्तान ने आज मैच का टॉस जीतने के बाद पहले बैटिंग करने का फैसला किया। जिसमें नाइल की गेंद पर रहाणे 5 रनों के स्कोर पर पवैलियन वापस लौट गए। इसके बाद कप्तान कोहली भी अपना खाता खोले बिना ही वापस नाइक की गेंद पर कैच देकर चलता बने। इसके बाद नाइक का अगला शिकार मनीष पांडे बने जो कि मैथ्यू वेड को कैच थमा दिए।

इसके बाद रोहित और जावध ने पारी को संभालने की कोशिश की लेकर रोहित भी अपना विटेक 28 रनों की साझेदारी कर गंवा दिए। इसके बाद जावध का विकेट 40 रनों के निजी स्कोर पर गिर गया। जिस वक्त 5 वें विकेट के तौर पर जावध का विकेट गिरा उस वक्त टीम का स्कोर 21 ओवर 3 गेंद में महज 87 रनों का था। इसके बाद तो पांड्या और धोनी ने छठें विकेट के लिए ताबड़तोड 118 रनों को साझेदारी की दोनों ने अपने अपने अर्धशतक भी जड़े।