पतंजलि के नाम पर नौकरी का झांसा देकर ठगी करने वाला आरोपी गिरफ्तार

नई दिल्ली। उत्तर पश्चिम जिला की सायबर सेल ने पतंजलि में नौकरी का झांसा देकर ठगी करने वाले आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने देशभर के दो सौ से ज्यादा बेरोजगारों को अपना शिकार बनाया। आरोपी की पहचान नरेन्द्र उर्फ गौरव निवासी मजलिस पार्क आजादपुर के रूप में हुई है।

बता दें कि पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है। पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, रानीबाग थाने में दिल्ली सर्कल में काम करने वाले पदाधिकारी ने शिकायत दी थी कि पंतजलि में नौकरी दिलाने के नाम पर कुछ लोग बेरोजगारों के साथ ठगी कर रहे है। आरोपी पीड़ितों को साक्षात्कार के लिए अपने कॉल सेंटर पर बुलाते। उनसे सुरक्षा राशि के नाम पर पैसा वसूलते। जिसके बाद उनको ऑफर लेटर देने की बात कहते।

वहीं रुपये लेने के बाद आरोपी पीड़ितों का फोन उठाना बंद कर देते। पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेकर सुखलाल मार्केट पीतमपुरा स्थित कॉल सेंटर पर छापा मारा, लेकिन कॉल सेंटर बंद मिला। इसके बाद पुलिस ने सर्विलांस और गुप्त सूचना के आधार पर आरोपी को पकड़ लिया। आरोपी नरेन्द्र मूलत: कानपुर का रहने वाला है। वह कानपुर यूनविर्सिटी से साइंस विषय से स्नातक है। वह वर्ष 2015 में नौकरी की तलाश में दिल्ली आया।

साथ ही उसने कई कंसल्टेसी फर्म में काम किया। इसके बाद उसने खुदकी कंसल्टेसी फर्म स्मार्ट एचआर जोन के नाम से शुरू की। उसने 6 टेली कॉलर को भी नौकरी पर रखा हुआ था। वह सामाचार पत्र और जाब पोर्टल पर विज्ञापन देता था। आरोपी सभी को अपना नाम गौरव ही बताता था। उसने गौरव के नाम से कई बैंकों में फर्जी अकाउंट भी खोल रखे थे। पुलिस ने उसके पास से आठ मोबाइल फोन, एक लैपटॉप सहित पंतजलि आयुर्वेद लिमिटेड कंपनी के फर्जी दस्तावेज भी बरामद किये।