डोकलाम जैसी और भी गतिविधियों को अंजाम दे सकता है चीन, सेना जवाब देने में न करे ढील

नई दिल्ली। भारत और डोकलाम विवाद को लेकर सेना के प्रमुख जनरल बिपिन रावत का कहना है कि चीन इस वक्त अपनी यथास्थिति बदलने के बारे में सोच रहा है और वो डोकलाम जैसी गतिविधियों को आगे दौहराने की कोशिश कर सकता है। रावत का कहना है कि इसको लेकर हमें सतर्क रहने और चिंता करने की जरूरत है और मुझे लगता है कि चीन की ये गतिविधियां भविष्य में बढ़ सकती हैं। रावत ने कहा कि डोकलाम विवाद और क्षेत्र को लेकर विवादित दावे लगातार जारी हैं। यह वास्तविक नियंत्रण रेखा एलएसी के निर्धारण पर अलग-अलग धारणाओं के कारण हैं।

 army chief, bipin rawat, doklam, chaina, standoff, pakistan, sikkim
bipin rawat doklam

बता दें कि रावत ने कहा कि चीन की सेना के साथ फ्लैग मीटिंग के दौरान भारतीय थल सेना शुरू से ही ये बात कहती रही कि दोनों पक्षों को 16 जून से पहले की जगहों गतिरोध शुरू होने से पहले पर लौट जाना चाहिए लेकिन अभी तक कोई समाधान नहीं निकला। उन्होंने कहा कि अब यह कूटनीतिक और राजनीतिक स्तर पर हो रहा है क्योंकि इसे कूटनीति और राजनीतिक पहलों के जरिए सुलझाने की जरुरत है। रावत ने कहा कि सेनाओं ने सशस्त्र तरीके से सैनिकों को इकट्ठा करने और अभियान चलाने की क्षमताओं में अहम प्रगति की है।रावत ने कहा कि मेरा सैनिकों को संदेश है कि वो जवाब देने में कोई ढील न करें।