डॉक्टरों की संवेदनहीनता हुई उजागर

हाथरस। भ्रष्टाचार की जड़े सरकारी महकमे में किस तरह जमी हैं इसकी बानगी आए दिन देखने को मिल ही रही है।हाथरस का सीएचसी सासनी बन गया मरीजों का रेफर सेन्टर ।हाथरस के सीएचसी सासनी में जेनरेटर समेत तमाम सुविधा मौजूद है।लेकिन हाथरस के सीएसी सासनी में गम्भीर रुप से जली महिला को भर्ती कराया गया।जहां पर महिला घन्टों अंधेरे और गर्मी में पड़ी रही। 60 प्रतिशत से भी ज्याद जल चुकी महिला का इलाज अंधेरे और गर्मी में मोबाईल और टार्च की रोशनी में किया गया।हालत बिगडने पर महिला को अलीगढ़ रेफर कर दिया गया।

यह पूरा खेल जेनरेटर के तेल की चोरी से  जुड़ा है। जेनरेटर के तेल के पैसों का घपला किया जाता है।पैसों का घपला करने के लिए यहां के डॉक्टर आम लोगो की जान से खेलने से भी नहीं चूक रहे है।डॉक्टर को भगवान का दर्जा दिया जाता लेकिन यहां तो भगवान ही हैवान का बन चुका है।

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार सवास्थ सेवाओं को लगातार बेहतर करने में जुटी है लेकिन वहीं पर मुख्यमंत्री योगी के सपनो को यहां के डॉक्टर पलीता लगाते नजर आ रहे है।