चैयरमेन पद को लेकर अनुपम खेर और गजेंद्र सिंह में शीत युद्ध जारी

मुंबई। फिल्म इंस्टिट्यूट आफ इंडिया (एफटीआईआई) के चेयरमैन पद से हटाए गए गजेंद्र सिंह और उनकी जगह इस पद पर नियुक्त हुए अनुपम खेर के बीच कोल्ड वार बढ़ता जा रहा है। अपना कार्यकाल न बढ़ाए जाने से खिन्न गजेंद्र सिंह ने खुद को वहां का सफल प्रशासक बताते हुए लिखा कि इस पद पद किसी स्टार अभिनेता की नही, एक अच्छे प्रशासक की जरुरत है। इस पर पलटवार करते हुए अनुपम खेर ने कहा है कि हम वहां किसी खास एजेंडे के साथ काम नहीं करेंगे, न ही छात्रों पर कोई बात थोपी जाएगी।

anupam kher gajendra singh
anupam kher gajendra singh

बता दें कि याद रहे कि जब 2015 में गजेंद्र सिंह की इस पद पर नियुक्ति हुई थी, तो भाजपा के समर्थक होते हुए भी अनुपम खेर ने इस पद पर गजेंद्र सिंह की नियुक्ति का विरोध किया था और गजेंद्र सिंह को इस पद के लिए अयोग्य बताया था। गजेंद्र सिंह अपने कार्यकाल को लेकर भी विरोधाभासी बातें कर रहे हैं। एक तरफ वे कह रहे हैं कि उनका कार्यकाल इस साल मार्च में पूरा हो गया, लेकिन वे ये नहीं बताते कि उन्होंने त्यागपत्र कब दिया।