अमरिंदर ने की पंजाब में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग

चंडीगढ़। प्रदेश में चुनावों के पहले मंडरा रहे आतंकी और सांप्रदायिक हमले की खबरों पर चिंता व्यक्त करते हुए पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने राष्ट्रपति शासन की मांग की है। इस क्रम में केन्द्र की पंजाब पुलिस को आतंकी हमलों व धार्मिक बेअदबी की घटनाओं की आशंका के मद्देनजर सतर्क रहने की चेतावनी पर प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए, कैप्टन अमरेन्द्र ने कहा है कि उक्त हालात केन्द्र के शासन में चुनाव करवाने सहित गंभीर स्थिति से बचने के लिए तुरंत कदम उठाए जाने की जरूरत पर बल देते हैं।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा है कि इन हालातों में मजबूत व सख्त कदम उठाए जाने की आवश्यकता है। उन्होंने राज्य में कानून व व्यवस्था की स्थिति सामान्य करने व इसे बाहरी खतरों से बचाने की दिशा में राष्ट्रपति शासन लगाए जाने के साथ चुनाव आयोग के दखल की मांग की है।
कैप्टन अमरेन्द्र ने जोर देते हुए कहा है कि केन्द्रीय गृह मंत्रालय द्वारा पंजाब पुलिस को दी गई चेतावनी राज्य में पेश आ रही हिंसा का मुकाबला करने की दिशा में काफी नहीं है, जो पहले ही आतंकवादियों के साथ-साथ अपने शासकों के हाथों बहुत कुछ सहन कर चुका है।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा है कि पंजाब सहित अगले माह चुनावों का सामना करने जा रहे अन्य राज्यों में भारी तादात में सुरक्षा बलों की तैनाती के बावजूद केन्द्रीय गृह मंत्रालय द्वारा राज्य पुलिस को निर्देश यह स्पष्ट करने के लिए काफी है कि जमीनी स्तर पर हालात बहुत गंभीर व विस्फोटक हैं।