बागी तेवर अपनाने पर जेडीयू ने काटे शरद यादव के पर

नई दिल्ली। बिहार में जेडीयू के बीजेपी के साथ मिल जाने पर शरद यदव काफी नाराज हैं। उन्होंने इसको लेकर काफी तीखी प्रक्रिया दी थी। शरद यादव ने खुद को लेकर कहा था कि वो आज भी गठबंधन के ही साथ हैं। हालांकि जेडीयू के अलग होने पर शरद ने कहा था कि इससे बहुत दुख हुआ है। वहीं शरद के इस रूख पर जेडीयू ने शरद यादव के बागी तेवर को लेकर उनके पर काटने शुरू कर दिए हैं। जेडीयू ने उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू से मिलकर पार्टी की तरफ से उन्हें एक पत्र दिया जिसमें कहा गया है कि शरद यादव की जगह राज्यसभा में संसदीय दल के नेता आरपी सिंह होंगे। इस मामले में वेंकैया नायडू ने भी पत्र को स्वीकृति दे दी है। जेडीयू के प्रतिनिधि मंडल में जेडीयू के सांसद हरिवंश, आरसीपी सिंह, अनिल साहनी, कौशलेंद्र कुमार, जेडीयू महासचिव संजय झा थे।

amit shah, bihar, patna, invite, nitish kumar, jdu, nda, sharad yadav
sharad yadav

बता दें कि जल्द ही जेडीयू की ओर से शरद यादव को बीजेपी और जेडीयू के एक साथ मिलने पर उठाए गए सवालों के लिए कारण बताओं नोटिस भी भेजा जा सकता है। पार्टी नीतीश को फैसला लेने के लिए अधिकृत करेगी। वहीं अमित शाह ने जेडीयू को एनडीए में शामिल होने का न्योता दिया है। अमित शाह ने ट्वीट कर कहा कि कल नीतीश कुमार से मुलाकात हुई इस मुलाकात में मैंने जेडीयू को एनडीए में शमिल होने को लिए न्योता दिया है। 19 अगस्त को पटना में जेडीयू की राष्ट्रीय कार्यकारी बैठक होनी है। जिसमें एनडीए में शामिल होने पर फैसला किया जाएगा।

वहीं बीते शुक्रवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी द्वारा बुलाई गई 16 दलों की बैठक पर जेडीयू के केसी त्यागी ने जमकर हमला किया। केसी ने कहा कि सोनिया ने बैठक में अली अनवर को बुलाकर जेडीयू को तोड़ने की कोशिश की है और पार्टी सोनिया के एस कदम की निंदा करती है। सीएम नीतीश के करीबी त्यागी का कहना है सोनिया की तरफ से अनवर को बैठक में बुलाए जाने पर पार्टी ने अली अनवर को पार्टी से निलंबित कर दिया गया है।