हिंगोनिया गौशाला में गायों की मौत को लेकर हंगामे के बीच जीएसटी बिल पास

जयपुर। राजस्थान विधानसभा में विपक्षी पार्टी कांग्रेस के द्वारा गौशाला में गायों की मौत को लेकर जोरदार हंगामा किया गया। इस दौरान हंगामा करने वाले कांग्रेस विधायकों को अध्यक्ष ने मार्शल के जरिए सदन से बाहर निकलवा दिया। हंगामे के दौरान सदन की कार्यवाही दो बार रोकनी पड़ी। इसके बाद संसद से पारित जीएसटी विधेयक के संकल्प को आम राय से समर्थन देकर राजस्थान विधानसभा ने भी पास कर दिया।

vasundhara raje

बता दें कि विधानसभा की कार्यवाही शुरु होते ही कांग्रेसियों ने हिंगोनिया गौशाला में गायों की मौत पर सरकार से जवाब देने की मांग की और हंगामा शुरु कर दिया। हंगामे के दौरान कांग्रेस के सदस्य सदन के बीचों बीच आकर सरकार के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। इस बीच पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत भी मौजूद थे। विधानसभा अध्यक्ष कैलाश मेघवाल ने इसकी इजाजत नहीं दी। उन्होंने कई बार सदस्यों से शांति बनाए रखने की अपील की। उनकी अपील का जब असर नहीं हुआ तो अध्यक्ष ने मार्शल को निर्देश देकर हंगामा करने वाले विधायकों को सदन से बाहर निकालने को कहा।

गौरतलब है कि कुछ दिन पहले हिंगोनेशिया गौशाले में 5 दिनों में 258 गायों की अचानक मौत हो गई। मीडिया में आई खबरों के मुताबिक पिछले तीन महीनों में गायों की तबियत इतनी खराब हो गई थी कि डॉक्टर भी इन्हें बचा नहीं पा रहे थे। कीचड़ में बिना खाए पिये लंबे समय तक रहने से गायों को इन्फेक्शन हो गया था जिसकी वजह से इनकी मौत हो गई वहीं इस पूरे मामले को लेकर राजस्थान सरकार के गो पालन मंत्री ओटाराम देवासी का कहना है कि हिंगोनिया एक काजी हाउस है जहां पर आवारा गाय पकड़ कर लाई जाती है ऐसे में पॉलीथीन खाकर आई गायें बहुत बीमार हो जाती है और मर जाती हैं।