अमेरिकी कंपनी बेकर ह्युजेस का जनरल इलेक्ट्रिक में विलय

बोस्टन। हुस्टन की ऊर्जा सेवा फर्म बेकर ह्युजेस का सोमवार को बोस्टन की जनरल इलेक्ट्रिक (जीई) में विलय हो गया। 23 अरब डॉलर के इस विलय के बाद जीई कंपनी अपने बाजार की दूसरी सबसे बड़ी कंपनी बन कर उभरी है।


अपने ऑयल फील्ड सेवाओं के लिए दुनियाभर में मशहूर बेकर ह्युजेस का औद्योगिक इंजीनियरिंग के लिए मशहूर जनरल इलेक्ट्रिक के साथ विलय काफी खास है। जिससे कंपनी का विस्तार सभी संभावित क्षेत्रों में होगा। जिसमें तेल और गैस करोबार, पाइप लाइन से लेकर रिफायनरी तक और साथ ही बिजली उत्पादन में भी कंपनी का विस्तार संभव है।
विलय की नीतियों के तहत नई कंपनी बेकर ह्युजेस नाम के साथ ही व्यापार करेगी। इसका प्रारंभिक लक्ष्य तो खर्चों को नियंत्रित करना होगा, साथ ही बड़े पैमाने पर होने वाले कर्मचारियों के छंटनी पर भी नियंत्रण रखना होगा।

जनरल इलेक्ट्रिक के पूर्व चीफ एक्जिक्यूटीव और बेकर ह्युजेस के वर्तमान चीफ एक्जिक्यूटीव, लारेंजो साइमोनेली ने बताया कि जब हम इस विलय पर काम कर रहे थे तो वास्तव में ऐसा लग रहा था कि हम इस बाजार का मूल ढ़ांचा ही बदल रहें है। आज हर कोई ऑयल और गैस इंडस्ट्री में काम करना चाहता है, जो कि हमारी कंपनी के पोर्टफोलियों में एक बड़ा हिस्सा रखता है।

गौरतलब है कि 1987 में जन्मी बेकर ह्युजेस एक अमेरिकी औद्योगिक सेवा कंपनी है। यह दुनिया की सबसे बड़ी तेल क्षेत्र सेवा कंपनियों में से एक है। जिसका कुल राजस्व 23 अरब के लगभग है।