ट्रंप प्रशासन ने भारतीय मूल के अमेरिकी सर्जन जनरल को किया सेवा मुक्त

वाशिंगटन। भारतीय मूल के अमेरिकी सर्जन जनरल विवेक मूर्ति को अमेरिका के नए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के प्रशासन द्वारा हटा दिया गया है। उन्हें अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा द्वारा नियुक्त किया गया था। कयास लगाए जा रहे हैं कि ट्रंप प्रशासन की ओर से विवेक को इसलिए हटाया गया है क्योंकि अब सरकार नहीं चाहती है कि उस पद पर और काम करें।

अमेरिकी स्वास्थ्य व मानल सेवा मंत्रालय द्वारा दिए गए आधिकारिक बयान में कहा गया है कि यूएस पब्लिक हैल्थ सर्विस कमीशन्ड कॉप्र्स के नेता विवेक मूर्ति को उनके पद से मुक्त कर दिया गया है। हालांकि प्रशासन की ओर साफ शब्दों में कहा गया है कि मूर्ति अब कमीशन्ड कॉप्र्स के सदस्य के तौर पर अब भी काम करेंगे।

बात दें कि अमेरिका के 19वें सर्जन जनरल मूर्ति इस पद पर बैठने वाले पहले भारतीय मूल के अमेरिकी हैं। प्रशासन द्वारा सेवा मुक्त किए जाने के बाद उन्होंने ट्विटर पर लिखा कि महत्वपूर्ण पद पर काम करना उनके लिए एक सम्मान की बात थी।

मूर्ति ने कहा, “भारत के गरीब किसान के पोते को राष्ट्रपति द्वारा पूरे देश के स्वास्थ्य की देखभाल करने के लिए कहा जाना बेहद अभिभूत करने वाला था। यह एक अदभुत अमेरिकी कहानी थी। मैं अपने देश का आभारी रहूंगा, जिसने लगभग 40 साल पहले मेरे प्रवासी परिवार का स्वागत किया और मुझे सेवा का मौका दिया।” मूर्ति की जगह मौजूदा डिप्टी सर्जन जनरल रियर एडमिरल सेल्विया ट्रेंट-एडम्स को यह पद सौंपा गया हैं।

 आशु दास