माइनिंग स्कैम से गर्माया राजनीतिक वातावरण

पंजाब। पंजाब के वरिष्ठ मंत्री राणा गुरजीत सिंह की कंपनी के मुलाजिमों के जरिए माइनिंग की ई-ऑक्शन में रेत खदानों के ठेके हासिल करने पर कैप्टन के मंत्रिमंडल विस्तार कार्यक्रम फंसता दिखाई दे रहा है। अमरेंद्र मंत्रिमंडल में सीएम सहित 10 मंत्री है। इनमें अभी 8 और कैबिनेट मंत्री शामिल किए जाने हैं। वही मंत्रिमंडल का विस्तार विधानसभा सत्र से पहले होने की संभावन जताई जा रही है।


मंत्रिमंडल के विस्तार के लिए कांग्रेस विधायकों ने जोरदार लॉबिंग शुरू की हुई है। लेकिन सैंड माइनिंग की ई-ऑक्शन और इसमें राणा गुरजीत के रोल के विवाद ने राजनीतिक वातावरण को गर्मा दिया है। जहां एक ओर विपक्ष आम आदमी पार्टी और अकाली दल राणा गुरजीत सिंह के इस्तीफे की मांग कर रहे हैं वही दूसरी तरफ सीएम इस मामले में चुप्पी साधे बैठे हुए हैं। वहीं कई कांग्रेसी विधायक कम आवाज में गुरजीत के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।