हमेशा अच्छा प्रदर्शन जारी रखने की कोशिश करूंगी: स्मृति मंधाना

दुबई। महिला वर्ल्ड कप के बीते दो मैचों में भारत की जीत में अहम भूमिका निभाने वाली सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना ने कहा है कि उनकी कोशिश अपने इसी प्रदर्शन का जारी रखने और टीम को जीत दिलाने की होगी। शुरुआती दो मैचों में मंधाना ने बेहतरीन प्रदर्शन किया था और अब वह इसे बरकरार रखने के लिए प्रतिबद्ध हैं। अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) द्वारा जारी किए गए बयान में मंधाना ने कहा है कि टूर्नामेंट अभी तक खत्म नहीं हुआ है, लेकिन मैंने चोट के बाद जिस तरह से वापसी की है उससे मैं बेहद खुश हूं।

बता दें कि 20 साल की खिलाड़ी मंधाना के बाएं घुटने में चोट थी, जिसके कारण चयनकर्ताओं को भी टीम चुनने में खासी परेशानी हुई थी। अभ्यास मैच में भी वह पूरी तरह से ठीक नहीं लग रहीं थी, लेकिन उन्होंने टूर्नामेंट शुरू होते ही शानदार प्रदर्शन किया और सभी की तारीफें लूटीं। मंधाना ने कहा कि इंग्लैंड के खिलाफ पहले मैच में अपनी लय में नहीं थी। मैं काफी घबराई हुई थी। इसके बाद मैंने वेस्ट इंडीज के खिलाफ दूसरे अभ्यास मैच में 82 रनों की पारी खेली। इससे मुझे बल्लेबाजी में वो आत्मविश्वास मिला जो मैं खो चुकी थी। मुझे लगा कि मैं बल्लेबाजी कर सकती हूं।

घुटने में चोट लगने के बाद भी मंधाना ने हिम्मत नहीं हारी और पूरी तरह ठीक न होने के बावाजूद उन्होंने टूर्नामेंट खेला और अच्छा प्रदर्शन किया और सभी के दिलों में जगह बना ली सभी ने मंधाना की उनके प्रदर्शन के लिए जमकर तारीफ की मंधाना का कहना है कि इंग्लैंड की टीम के साथ खेलते हुए उनको थोड़ी घबराहट हुई थी। जिसकी वजह से में अपनी लय में नहीं थी और कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर पाई थी। लेकिन उसके बाद वेस्ट इंडीज के खिलाफ मैंने 82 रन बनाए और अपनी पारी को पूरा किया।