गृह मंत्रालय ने कहा, अंडमान के हैवलॉक द्वीप पर फंसे पर्यटक सुरक्षित

नई दिल्ली। केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को कहा कि अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह के हैवलॉक द्वीप पर फंसे सभी पर्यटक सुरक्षित हैं और सरकार ने उन्हें वहां से सुरक्षित निकालने की पूरी तैयारी कर रखी है। राजनाथ ने अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह के उपराज्यपाल जगदीश मुखी से भी इस बारे में बात की और हैवलॉक द्वीप की स्थिति के बारे में जानकारी ली।

home-minsiter-rajnath-singh-review-the-security-situation-in-baramulla


राजनाथ ने इस संबंध में कई ट्वीट किए। उन्होंने कहा, अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह के उपराज्यपाल जगदीश मुखी से बात की। उन्होंने हैवलॉक द्वीप की स्थिति से अवगत कराया।
एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा, हैवलॉक द्वीप में फंसे सभी पर्यटक सुरक्षित हैं। सरकार ने उन्हें वहां से निकालने के लिए सभी तैयारी कर ली है। केंद्रीय गृह मंत्री ने यह भी कहा कि चक्रवात का प्रभाव कम होते ही सरकार बचाव अभियान शुरू कर देगी। गृह मंत्री के मुताबिक, पोर्ट ब्लेयर में कई टीम तैयार है।

राजनाथ ने फंसे हुए पर्यटकों के परिवार वालों से चिंतित नहीं होने के लिए कहा है। भारतीय नौसेना के चार जहाज बुधवार सुबह हैवलॉक द्वीप में फंसे 800 पर्यटकों को सुरक्षित निकालने के लिए रवाना हुए थे। पर्यटकों को हैवलॉक द्वीप से सुरक्षित बाहर निकालने का फैसला अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह के आपदा प्रबंधन विभाग के अनुरोध पर लिया गया, जिसने आशंका जताई थी कि राजधानी पोर्ट ब्लेयर से 36 किलोमीटर दूर इस द्वीप पर चक्रवाती तूफान आ सकता है।