अब असली कोर्ट रुम में ‘जॉली एलएलबी2’ की होगी लड़ाई

मुंबई। अक्षय कुमार की फिल्म जॉली एलएलबी2 की अब असली लड़ाई कोर्ट रुम में होगी और उसके बाद ही उसके रिलीज पर लटक रही तलवार इस पार होगी या उस पार इसका फैसला होगा। 0 फरवरी को रिलीज होने वाली इस फिल्म को बॉम्बे हाईकोर्ट की औरंगाबाद बेंच ने तीन एमिकस क्यूरी को नियुक्त करते हुए इस फिल्म को देखने को कहा है। और उन्हें इस बात का पता लगाना है कि क्या इस फिल्म में ज्यूडिशियरी या वकीलों की छवि खराब की गई या फिर नहीं।

देखिए हूमा के साथ अक्षय कैसे हुए बावरे 

खबरों की मानें तो वकील आरएन और वी दे दीक्षित इस फिल्म को देखेंगे और अपनी रिपोर्ट कोर्ट को सौंपेगे जिसके बाद मामले की सुनवाई की जाएगी।  हालांकि इससे पहले भी फिल्म जूते के चक्कर में फंस चुकी है। दरअसल फिल्म के एक डायलॉग को लेकर जूता कंपनी ने उसके बेइज्जती करने का आरोप लगाते हुए फिल्म को लीगल नोटिस जारी किया था।

जाने क्या फंसा है जॉली एलएलबी रिलीज पर पेंच?

इस फिल्म पर वकील अजय कुमार ने बॉम्बे हाई कोर्ट से याचिका दायर कर फिल्म के टाइटल से एलएलबी शब्द को हटाने की मांग की थी। इसके साथ ही अपनी याचिका में ट्रेलर के कई सीन्स का जिक्र करते हुए लिखा है कि इसमें किरदारों को कोर्ट परिसर के अंदर पत्ते खेलते और डांस करते हुए दिखाया गया है। ये फिल्म 2013 में आई जॉली एलएलबी फिल्म का सीक्वेल है। लेकिन इस बार अरशद वारसी की जगह अक्षय कुमार और एक्ट्रस हूमा कुरैशी को लिया गया है।

ट्रेलर में देखिए अक्षय कैसे लड़ेंगे केस