अखिलेश का माया पर तंज, कहा आपसे कौन कर रहा है काम की उम्मीद

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के चुनावी दंगल में सभी राजनेता ताबड़तोड़ रैलियां करने में लगे हुए हैं। बुधवार को बिजनौर में रैली को संबोधित करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि अब तो पत्थर वाली सरकार भी कहती है कि स्मारक नहीं बनायेंगे और काम करेंगे। यह बातें अखिलेश ने मायावती को निशाने पर लेते हुए कही। सभा को संबोधित करते हुए अखिलेश ने कहा, ‘आपसे कौन उम्मीद कर रहा है कि आप काम करोगी? उन्होंने बसपा से निकलने वाले सभी लोग पैसा लेने का आरोप लगाते हैं। इसके अलावा उनकी सरकार ने जो हाथी लगवाये थे, वह नौ साल से वैसे ही हैं। खड़ा हाथी उठा नहीं और बैठा हाथी खड़ा नहीं हुआ। पूरा पैसा इन पर खर्च कर दिया गया।’

बिजनौर में सभा को संबोधित करते हुए पार्टी में बीते दिनों हुए घमासान का जिक्र करते हुए जनता से कहा कि बड़ी मुश्किल से साइकिल बची है। आप जानते हो कैसे बचा पाए। आपके साथ और ऊपर वाले की दुआ से साइकिल बची है। उन्होंने कहा कि यह साइकिल चलने वाली है। यह साइकिल दौड़ने वाली है। सपा अध्यक्ष ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर निशाना साधते हुए कहा कि यह पार्टी बहुत होशियार है। इनकी सरकार ने नोटबन्दी से जनता को परेशान किया। जिस समय किसान बुआई करता है, बेटियों की शादियों का समय होता है, उस समय भाजपा ने नोटबन्दी कर दी। उन्होंने कहा कि भाजपा वाले परेशान हैं, उन्हें समझ में नहीं आ रहा है। वह आंधी चलने की बात कह रहे हैं। अगर आंधी चल भी रही है तो हमे पता है कि कैसे पैडेल मारकर साइकिल को कैसे चलाना है।

सभा को संबोधित करते हुए आगे बोलते हुए अखिलेश ने कहा कि भाजपा ने विद्याधन, लैपटॉप, पेंशन देने जैसे कोई काम नहीं किए। अखिलेश ने कहा कि हमने प्रदेश की राजनीति में बदलाव लाने के लिए कांग्रेस के साथ गठबन्धन किया है। सपा का दिल बड़ा है, इसलिए कांग्रेस को ज्यादा सीटें दी हैं। दोस्ती तभी मजबूत होती है, जब दिल बढ़ा हो। उन्होंने जनता से कहा कि एक बार और आप हमें मौका दें, जो काम शुरू हुए हैं, उन्हें और तेजी से पूरा किया जायेगा। उन्होंने कहा कि चुनाव भले ही हमारे प्रत्याशी लड़ रहे हैं, लेकिन यह चुनाव हमारा है।

उन्होंने कहा कि यहां मेडिकल कॉलेज बनाया जायेगा। इसके अलावा पैरामेडिकल और नर्सिंग कॉलेज की भी स्थापना की जायेगी। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने के लिए डॉक्टरों का होना बेहद जरूरी है। इसलिए हमने कई जगह मेडिकल कॉलेज बनाने का काम किया। हमने 102 और 108 एम्बुलेंस दी। शहरों को 24 घण्टे और गांवों को 14 से 16 घण्टे बिजली दे रहे हैं। आने वाले दिनों में इसे और बेहतर किया जायेगा। उन्होंने कहा कि इसी तरह 01 करोड़ महिलाओं को 01 हजार रुपए की पेन्शन दी जायेगी। हम महिलाओं को प्रेशर कुकर देने का भी काम करेंगे। बच्चों को 01 लीटर घीं और मिल्क पाउडर देने की व्यवस्था की जायेगी।