अखिलेश : दोबारा सत्ता में आए तो अधिकारियों की समस्याओं का होगा निराकरण

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शनिवार को प्रांतीय सिविल सेवा (पीसीएस) एसोसिएशन के दो दिवसीय वार्षिक अधिवेशन का उद्घाटन करते हुए कहा कि अधिकारियों की समस्याओं से अब अवगत हुआ हूं। अगली बार सपा की सरकार बनी तो अधिकारियों की समस्याओं का निराकरण करूंगा। यह अधिवेशन नौ साल बाद हो रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार की योजनाओं को अधिकारियों ने जनता तक पहुंचाया है और उनके अच्छे कामों से सरकार की छवि सुधरती है।

akhilesh

उन्होंने कहा कि इस तरह का आयोजन हमेशा होना चाहिए, क्योंकि इससे आपस में मेलजोल बढ़ाने का मौका मिलता है। गौरतलब है कि शासन में पीसीएस अफसरों की अहम भूमिका होती है। एक दशक पहले तक इस संगठन की धाक हुआ करती थी। लेकिन एसोसिएशन की कमजोरी का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि साल 2007 के बाद से इसका वार्षिक अधिवेशन तक भी आयोजित नहीं हो पाया था।

साल 2007 में बाबा हरदेव सिंह एसोसिएशन के अध्यक्ष थे। उस समय मुख्यमंत्री मायावती न सिर्फ बतौर मेहमान अधिवेशन में शिरकत की थीं, बल्कि कई अहम घोषणाएं भी की थीं। इसी साल बाबा हरदेव सेवानिवृत्त हो गए। उनके संगठन से विदा होते ही गुटबाजी शुरू हो गई और सालाना जलसा बंद हो गया। इस बीच कई नए बैच और सैकड़ों की संख्या में नए अधिकारी सेवा में आए। इसके बावजूद नए व पुराने अधिकारियों को एक साथ बैठने, समस्याएं साझा करने का मौका नहीं मिला। विधानसभा चुनाव के मौके पर ही सही, मौजूदा कार्यकारिणी के प्रयास से अधिवेशन का आयोजन हुआ, जिसे मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने संबोधित किया। इससे एसोसिएशन के सदस्य काफी उत्साहित हैं।