अखिलेश सरकार की खरीदी हुई नाव की मरम्मत की जाएगी, कंपनी ने भेजा नोटिस

लखनऊ। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के कार्यकाल में खरीदी गई जनेश्वर मिश्र पार्क की नावें मरम्मत मांग रही हैं। एलडीए ने नावों की मरम्मत के लिए लिटमस मरीन कम्पनी को एक नोटिस भेजकर 15 दिनों के भीतर मरम्मत कार्य कराने के निर्देश दिए हैं। लखनऊ में जनेश्वर मिश्र पार्क स्थित झील में चल रही 80 फीसदी नावें उपयोगी नहीं बची हैं। लखनऊ विकास प्राधिकरण (एलडीए) के सचिव जयशंकर ने बताया कि नावों की मरम्मत के लिए लिटमस मरीन कम्पनी के प्रतिनिधि को निर्देशित किया गया, जिसके बाद कम्पनी को नोटिस भेजकर 30 जुलाई तक नावों का मरम्मत कराने करने को कहा गया है।

Akhilesh Yadav, government, purchased, repaired, notice, company
Akhilesh Yadav, boat

बता दें कि जयशंकर ने बताया कि जनेश्वर मिश्र पार्क घूमने वालों के लिए बोटिंग करना सुखद अनुभव है और नावों की बुकिंग भी होती है। नाव पर बैठने वाले लोगों को किसी प्रकार का खतरा न हो, इसके लिए नावें मरम्मत कराना जरूरी है। अगर कम्पनी मरम्मत नहीं करती है उसे ब्लैक लिस्टेड किया जाएगा। पिछले दिनों राज्यमंत्री सुरेश पासी ने जनेश्वर मिश्र पार्क के निरीक्षण के दौरान एक नाव की खरीद राशि 16 लाख होने पर हैरानी जताई थी। उन्होंने त्वरित टिप्पणी करते हुए कहा था कि कश्मीर से नावें खरीद ली जाती तो इतने रुपये खर्च न होते।