मंच पर जगह न मिलने पर तेजस्वी बोले लालू प्रसाद जमीनी नेता

पटना। पटना में प्रकाश पर्व के मौके पर कार्यक्रम के दौरान राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को मंच पर प्रधानमंत्री मोदी के साथ स्थान नहीं दिए जाने के बाद से चल रही राजनीति पर बयानबाजी चल रही है। इसी बीच बिहार के उपमुख्यमंत्री और लालू यादव के के बेटे तेजस्वी यादव ने कहा कि लालू प्रसाद यादव जमीनी नेता हैं। गुरु के दरबार में जमीन पर ही बैठने की परम्परा है और परम्परा की निर्वहन में लालू प्रसाद यादव को कोई परेशानी नहीं है | इसके अलावा उन्होंने कहा कि लालू प्रसाद यादव जमीनी नेता हैं और जमीन पर ही बैठेंगे।

बता दें कि गुरु गोविंद सिंह जी महाराज के 350वें प्रकाश पर्व के मौके पर आयोजित मुख्य समारोह में राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद, उनके छोटे पुत्र व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव और बड़े पुत्र व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव पूरे कार्यक्रम के दौरान जमीन पर ही बैठे रहे। प्रधानमंत्री के मंच पर उन्हें स्थान नहीं दिया गया था। देर शाम इस पर बयान आने शुरू हो गए जिससे राजनीति गर्म हो गई। राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा था कि प्रकाश पर्व के आयोजन में राज्य सरकार शामिल थी, लेकिन इसमें सिर्फ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ही दिखे। उन्होंने कहा कि मुख्य समारोह में पीएम के साथ राजद को शामिल नहीं किया गया और लालू प्रसाद यादव जैसे वरिष्ठ नेता को जमीन पर बैठाया गया।

उल्लेखनीय है कि केंद्रीय मंत्री राम कृपाल यादव, एसएस अहलुवालिया, राज्य सरकार के मंत्री मदन सहनी, कुमारी मंजू वर्मा, भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी, नंदकिशोर यादव, विस में विरोधी दल के नेता डा. प्रेम कुमार, राजद विधायक भाई वीरेंद्र जैसे बड़े नेता पूरे कार्यक्रम के दौरान जमीन पर ही बैठे थे |