दूल्हे की फरमाइश न मानने पर, दुल्हन बिना लोटी बारात: जयपुर

जयपुर। आप को बतादें की अब तक आपने शादी समारोह मे कई अन्य शर्तो पर विवाद होते देखा और सुना होगा, लेकिन ऐसा विवाद भी कभी नही देखा और सुना होगा। जिहाँ ये भी एक विवाद प्रकाश मे आया है, एक शादी समारोह मे दुल्हे की जिद पर दोनो पक्षो मे जमकर विवाद हुआ, और फिर बिना दुल्हन बारात को लोटना पडा। विवाद के बीच मे पुलिस को भी पडना पडा।

दरअसल सारा मामला, जनपद् जयपुर के मूडंवा निवासी भंवरलाल की बेटी बीना की शादी बीकानेर निवासी दिनेश कुमार के बेटे विवेक के साथ होनी थी। बाराती बारात लेकर विवाह स्थल पहुचे, सारे कार्यक्रम व प्रतीभोज भी सही-सलामत सम्पन्न हुआ, यहाँ तक की सातों फेरे भी लिए गए।

बीकानेर निवासी दिनेश कुमार के बेटे विवेक ने अपनी होने वाली वधु बीना से कुछ ऐसी फरमाइश कर दी कि वधु ने फरमाइश को आपत्तिजनक बताते हुए इनकार किया। फेरो के बाद फोटोग्राफी होते समय दुल्हे विवेक ने दुल्हन के साथ अपनी मर्जी से फोटोग्राफी कराने की फरमाइश की जिसे दल्हन और उसके पक्ष ने आपत्तिजनक बताते हुए कहाँ कि समारोह के बीच ऐसी फोटोग्राफी नहीं कराई जा सकती, जिसका वधु पक्ष ने बहुत विरोध किया जोकी देखते-देखते विरोध बडे विवादो मे बदल गया। जिससे दुल्हा नाराज हो गया, विवाद इतना बढ गया कि दोनों पक्षों ने एक-दूसरे पर जमकर लात-घूसे व लाठी-ड़न्डे भी चलाए, जिसमे दूल्हे के छोटे भाई का सिर मे गहरी चोट लगी और काफी लोगो कोभी बहुत चोंटे आई। मौके पर पहुंची मूंडवा पुलिस ने दोनो पक्षो को समझाया पर विवेक अपनी बात पर अड़ा रहा।

झगडालू परिवार मे नही दुंगा बेटी पिता

विवेक के ना मान्ने पर, मूंडवा पुलिस ने दुल्हे पक्ष के तीन लोगो को गिरफतार कर थाने ले गयी और फैसलेनामे के लिए समझाया, अत: बीना के पिता ने फैसले का लिए इनकार करते हुए कहाँ कि, मै अपनी बेटी की शादी झगडालू परिवार मे नही करूंगा। बारात को सात फेरे लेने के बाद भी वापस जाना पड़ा। जिसमे पूछताछ के अनुसार, विवेक मुम्बई में चार्टेड एकाउंटेंट और बीना ने एलएलबी कर रखी है।