दुष्कर्म की वारदात के बाद युवती के शव को नहर में फेंका

पटना। बिहार का गुंडाराज खत्म होने का नाम ही नहीं ले रहा है। यहां पर युवतीयों के साथ दुष्कर्म और छेड़छाड़ की वारदातें कम नहीं हो रही है। एक ऐस ही मामला बिहार के गोपालंज जिले से प्रकाश में आया है जहां पर युवती के साथ दुष्कर्म करने के बाद युवती की हत्या कर शव को नहर में फेंक दिया गया। पुलिस को सूचना मिलने के बाद पुलिस ने बिहर व उत्तरप्रदेश की सीमा पर स्थित सरेया गांव के पार गंडक मुख्य नहर से युवती के शव को बरामद किया है। शव की शिनाख्त उत्तरप्रदेश के तरेया सुजान थाना क्षेत्र की मुन्नीपट्टी गांव की युवती के रुप में हुई है।

मिली जानकारी के मुताबिक मुनीपट्टी गांव निवासी युवती शुक्रवार को किसी काम से घर से निकली थी। देर शाम तक वह नहीं लौटी तब घर के लोगों ने उसकी तलाश शुरू कर दी । काफी प्रयास के बाद भी युवती का कुछ पता नहीं चला। शनिवार की शाम बिहार व यूपी की सीमा के पास गंडक नहर में एक युवती के शव के होने की सूचना गोपालपुर और उप्र की पुलिस मौके पर पहुंची। गोपालपुर तथा तरेया सुजान थाने की पुलिस की मौजूदगी में युवती का शव नहर से निकाला गया है। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया की युवती की दुष्कर्म के बाद उसकी हत्या कर शव को नहर में फेंका गया है।

पुलिस ने युवती का शव बरामद करने के बाद उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस अधिकारी ने कहा की पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आने के बाद ही इस बात की पुष्टि हो पाएगी की युवती के साथ दुष्कर्म की भी घटना को अंजाम दिया गया था या नहीं।