आखिर अक्षय ने क्यों कहा की ‘सोच और शौच बदलना है जरुरी’

नई दिल्ली। अक्षय की बहुत जल्द एक फिल्म ‘टॉयलेट: एक प्रेमकथा’ रिलीज होने वोली है। लेकिन इस फिल्म के दौरान हुई एक रिसर्च में पता चला है की हिंदुस्तान में आज भी 54% घरों में टॉयलेट नहीं है और उन घरों की औरतें भी खुले में टॉयलेट के लिए जाती है। अक्षय की आज कल इसी को लेकर एक वीडियो काफी वायरल हो रही है इस वीडियो में अक्षय इसी बारें में बात कर रहे है।

वीडियो में अक्षय नें कहा की यूं तो औरत, लड़की हमारे घर की इज्जत है लेकिन फिर भी हम उन्हें खुले में जाने के लिए कहते है। इसमें भी वो दिन के समय नहीं जा सकती क्योंकि वो घर की इज्जत है इसलिए उनको अंधेरे में ही जाना पड़ता है। टॉयलेट तो नेचर की कॉल है इसे रोक पाना बहुत मुश्किल होता है। लेकिन घर की महिलाओं और बेटियों को पूरा दिन अपना प्रेशर रोकना पड़ता है और रात के अंधेरे या सुबह उजाले से पहले ही जाना पड़ता है। वैसे तो महिलाओं को घूंघट औड़े रहने के लिए कहा जाता है क्योंकि वो घर की इज्जत है लेकिन जब टॉयलेट की बात आती है तो उनको खुले में भेजते है। तो चलिए अब आप खुद ही देख लीजिए की अक्षय ने और क्या-क्या कहा।