आम आदमी पार्टी के दो नेताओं ने आरोप लगाकर पकड़ा कांग्रेस का हाथ

लुधियाना। पंजाब में आप में चल रही वर्चस्व की लड़ाई में पार्टी को लगातार नुकसान हो रहा है। राज्य में आप पार्टी को झटका देते हुए लुधियाना और फतेहगढ़ साहिब संसदीय क्षेत्रों के इंचार्ज वरिन्द्र खारा, मंडी गोबिंदगढ़ जोन ने जतिन सूद ने कैप्टन अमरेंद्र सिंह की उपस्थिति में कांग्रेस का हाथ पकड़ लिया है।

कांग्रेस का हाथ पकड़ने के बाद दोनों नेताओं ने मीडिया से मुखातिब होते हुए कहा कि पार्टी में चल रही आपसी रंजिश के कारण और पार्टी पर लगातार भ्रष्टाचारों के आरोपों के कारण उन्होंने पार्टी को छोड़ने का फैसला लिया है। खारा ने कहा कि पंजाब की सेवा करने के लिए मैंने अपना ग्रीन कार्ड सैरेंडर कर दिया था और ‘आप’ में शामिल हुआ था परंतु मेरी आकांक्षाएं धराशायी होकर रह गईं।

punjab-congress

कौन है खारा

बता दें कि खारा एक अमेरिकी कारोबारी है जिन्होंने केजरीवाल से प्रभावित होकर राजनीति में कदम रखते हुए आप का दामन थामा था। हालांकि समय के साथ केजरीवाल पर से उनका विश्वास उठ गया। लगातार भ्रष्टाचारों के आरोपों में घिरे होने के कारण उन्होंने पार्टी को अलविदा कह दिया है।

इन दोनों नेताओं ने कांग्रेस में शामिल होने के बाद कांग्रेस की ताकत में इजाफा हो सकता है। प्रदेश की कांग्रेस की स्थिति में काफी बदलाव देखने को मिल सकता है।