AAP के नेता और नेता विपक्ष पर लगा ड्रग्स तस्करों से संबंध रखने का आरोप

नई दिल्ली। पंजाब में एक बार फिर आम आदमी पार्टी की मुश्किलें बढ़ने लगी हैं। बीते साल टिकटों को लेकर हुई दलाली और फिर सेक्स कांड और फिर पैसों का हेरफेर कई आरोपों से पंजाब की आम आदमी पार्टी की इकाई घिरी रही है। लेकिन अब एक बार फिर पार्टी के नेता सुखपाल खेडा पर ड्रग्स तस्करी मामले का आरोप लगा है। आरोप है कि पार्टी के नेता सुखपाल के संबंध ड्रग्स तस्करों के साथ है। आम आदमी पार्टी ने पंजाब में चुनाव के दौरान नशे को अपना हथियार बनाकर अकालीदल-भाजपा और कांग्रेस की पूर्ववर्ती सरकारों पर निशाना साधा था। लेकिन अब तीर आम आदमी पार्टी की ओर ही मुड़ गया है।

ड्रग्स तस्करी के मामले में पार्टी के नेता और सूबे में विपक्ष के नेता सुखपाल खेडा को फाजिल्का कोर्ट ने समन जारी किया है। ये सम्मन उनके ड्रग्स तस्करी मामले में कोर्ट की ओर से जारी किया गया है। उन पर ड्रग्स तस्करों के साथ संबंध रखने का आरोप लगा है। इस मामले के सामने आने के बाद सूबे में राजनीतिक हलचलें बढ़ने लगी है। पार्टी के ऊपर कांग्रेस के साथ अकालीदल और भाजपा ने तीखे हमले शुरू कर दिये हैं। इन पार्टियों ने सुखपाल को नेता विपक्ष के पद से हटाने की बात तक कह डाली है।

बात यहां तक ही नहीं रही है, अब खुद आम आदमी पार्टी के भीतर भी सुखपाल खेडा को लेकर बागी स्वर गूंजने लगे हैं। पार्टी के कई वरिष्ठ नेता सुखपाल को हटाने की मांग करने लगे हैं। इसमें पार्टी के मौजूदा विधायक भी शामिल हैं। दरअसल पूरा मामला साल 2015 में में पंजाब पुलिस के हथ्थे चढ़े एक ड्रग्स रैकेट का है। इन तस्करों के पास से पुलिस को भारी मात्रा में हेरोइन, सोने के बिस्किट, हथियार और पाकिस्तान के सिम कार्ड मिले थे। जब जांच आगे बढ़ी तो पता चला इनके रिश्ते आम आदमी पार्टी के सुखपाल खेडा के साथ भी हैं। ये तस्कर सुखपाल के साथ फोन के जरिए संपर्क साधते थे। अब कोर्ट ने इस मामले में सुखपाल खेडा को समन जारी कर अपना पक्ष कोर्ट के सामने रखने को कहा है।