आप ने की अमरनाथ आतंकी हमले की कड़ी निंदा, सुरक्षा इंतजामों पर उठाये सवाल

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी (आप) ने अमरनाथ आंतकी हमले की कड़ी निंदा करते हुए इस घटना को पाकिस्तान की आंतक, हिंसा,दहशत तथा दरिंदगी फैलाने की नापाक कोशिश बताया है। साथ ही पार्टी ने इस हमले को लेकर ​कुछ सवाल भी खड़े किये हैं।


आप नेता संजय सिंह ने इसे पाकिस्तान प्रायोजित हमला बताते हुए कहा कि पार्टी इसकी कड़े शब्दों में निंदा करती है और आतंक, दंगे-फसाद एवं नफरत की राजनीति का विरोध करती है। पार्टी ऐसे तत्वों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई का समर्थन करती है।

उन्होंने इस हमले को लेकर कुछ सवाल भी उठाये। सिंह ने कहा कि अमरनाथ यात्रा पर आतंकी हमले की आशंका हमारी इंटेलीजेंस एजेंसियों, सुरक्षा एजेंसियों तथा सरकार को पहले से थी। उन्होंने कहा कि रात सात बजे से राजमार्ग पर अमरनाथ यात्रा की बस नहीं चल सकती फिर ये बस कैसे राजमार्ग पर आयी।

साथ ही ये बस श्राइन बोर्ड के तहत पंजीकृत भी नहीं थी। तीर्थ यात्रियों की बस के साथ सुरक्षा का जो काफिला चलता है, वो भी बस के साथ मौजूद नहीं था सीआरपीएफ की टुकड़ी को निशाना बनाना आतंकियों का मकसद था। उन्होंने कहा कि अमरनाथ यात्रियों को बार-बार निशाना बनाया जाता रहा है यह पहली घटना नहीं है।

2000, 2001 तथा 2015 में भी अमरनाथ यात्रियों पर हमले हुए हैं सरकार ने इसके लिए सीटीटीवी कैमरे,ड्रोन तथा सुरक्षा बलों के अतिरिक्त 40 हजार जवान तैनात किये हैं। ऐसे में इस घटना के संदर्भ में जो कुछ सुरक्षा खामियां सामने आयी हैं। सरकार को उन्हें दुरूस्त करना चाहिए। सरकार को ज्यादा मुस्तैद रहते हुए इसकी चूक पर गंभीरता से ध्यान देना चाहिए। संजय सिंह ने कहा कि केन्द्र सरकार को ऐसी घटनाओं से गंभीरता से निपटना होगा और पाक को इस नापाक हरकत के लिए कड़ा जवाब देना होगा। इस प्रयास में आम आदमी पार्टी पूरी तरह से केन्द्र सरकार के साथ है।