आप सरकार की मांग,कर छूट सीमा बढ़ाकर की जाए 10 लाख

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी की ट्रेड विंग ने केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली से कर छूट सीमा बढ़ाकर 10 लाख रु. करने की मांग की है। इस संबंध में आप ट्रेड विंग के अध्यक्ष सुभाष खंडेलवाल ने वित्त मंत्री को लिखे पत्र में कहा है कि दिल्ली के व्यापारियों एवं उद्यमियों ने मांग की है कि केन्द्रीय वित्त मंत्री उनके कुछ सुझावों को आगामी बजट में शामिल करें। इन सुझावों से अर्थव्यवस्था को बल मिलेगा। इनके तहत आयकर छूट की सीमा बढ़ाकर 10 लाख कर दी जाए तथा 10 से 20 लाख तक की आय पर 15 प्रतिशत, 20 से 40 लाख तक की आय पर 20 प्रतिशत एवं 40 लाख से ऊपर की आय पर 25 प्रतिशत की दर से आयकर लगना चाहिए।

वहीं टैक्स ऑडिट की सीमा एक करोड़ से बढ़ाकर 2.5 करोड़ कर दी जाए। आप ट्रेड विंग के संयोजक बृजेश गोयल ने कहा कि छोटे व्यापारियों को सस्ती दर पर लोन मिलना चाहिए। साथ ही व्यापारियों को देय टैक्स के अनुसार पेंशन भी मिलनी चाहिए। इसके अलावा सर्विस टैक्स को 15 प्रतिशत से घटाकर 12 प्रतिशत कर दिया जाए। गोयल ने कहा कि ऑनलाइन ट्रांजेक्शन पर व्यापारियों को एमडीआर में छूट मिलनी चाहिए साथ ही डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा देने के लिए पीओएस मशीन सस्ती होनी चाहिए।