आप ने दोहराई बैलेट पेपर से निगम चुनाव कराने की मांग

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी ने निगम चुनाव के लिए आईं ईवीएम मशीनों में से 4600 मशीनों को खराब बताते हुए एक बार फिर से निगम चुनाव ईवीएम के बजाय बैलेट पेपर से कराने की मांग दोहराई है। साथ ही पार्टी ने खराब पाई गईं ईवीएम के सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर की भी जांच कराने की मांग की है।

आप के राष्ट्रीय प्रवक्ता दिलीप कुमार पांडेय ने गुरुवार को यहां कहा है कि देश का चुनावी लोकतंत्र खतरे में है और उसे बचाया जाना बेहद जरूरी है। लिहाजा जब तक ईवीएम से जुड़ा संदेह बाहर नहीं आता तब तक चुनाव आयोग निगम चुनाव न कराये और हो सके तो चुनाव की तिथि में बदलाव भी किया जाए।

पांडेय ने कहा कि निगम चुनाव के लिए आयोग ने 30 हजार बैलेट यूनिट और 20 हजार कंट्रोल यूनिटें मंगाई गई हैं, जिसमें से 4600 ईवीएम मशीनें खराब पाई गई हैं। इनमें से अधिकांश में तकनीकी खराबी है और इन तथ्यों को तो चुनाव आयोग ने आधिकारिक तौर पर स्वीकार भी किया है। दिलीप पांडेय का कहना है कि आज देश भर से आ रही ईवीएम में गड़बड़ी से सम्बंधित शिकायतों से देश के नागरिक का चुनावी प्रक्रिया में विश्वास कमजोर पड़ा है। उन्होंने कहा कि देश में निष्पक्ष चुनाव कराने की जिम्मेदारी चुनाव आयोग की होती है, लेकिन आज की तारीख में लोगों का विश्वास चुनाव आयोग द्वारा इस्तेमाल की जा रही ईवीएम से उठ चुका है। ईवीएम अपनी विश्वसनीयता खो चुकी हैं।