राष्ट्रगान को हटाकर पाकिस्तान में फिल्म रिलीज से मना करने पर आमिर की वाहवाही

मुंबई। महाराष्ट्र विधान परिषद के जारी अधिवेशन में दंगल की गूंज हुई है। अधिवेशन में आमिर खान को इस बात के लिए बधाई दी गई कि उन्होंने अपनी फिल्म दंगल को पाकिस्तान में रिलीज करने से मना कर दिया, क्योंकि पाकिस्तान के सेंसर बोर्ड ने वहां फिल्म को रिलीज करने के लिए राष्ट्रगान और राष्ट्र ध्वज फरहाने के सीनों को हटाने के लिए कहा था।

पाक सेंसर बोर्ड के इन सुझावों को खारिज करते हुए आमिर खान ने पाकिस्तान में दंगल को रिलीज करने का अपना फैसला वापस ले लिया और सीधा संदेश दिया कि देश के सम्मान के साथ कोई समझौता नहीं किया जा सकता। आमिर खान के इसी फैसले की गूंज विधानसभा में हुई। खबर के मुताबिक, अधिवेशन के आखिरी दिन सदन के विपक्ष के नेता धनन्जय मुंडे की ओर से एक प्रस्ताव पेश किया गया, जिसमें दंगल को पाकिस्तान में रिलीज न करने के आमिर खान के फैसले की सराहना की गई।

इस प्रस्ताव पर दलगत राजनीति से ऊपर उठकर सदन के सभी सदस्यों ने इस प्रस्ताव का स्वागत किया और आमिर को उनके फैसले के लिए बधाई दी। आमिर खान महाराष्ट्र सरकार से मिलकर पानी का संकट दूर करने की योजनाओं पर भी काम कर रहे हैं। इसके लिए आमिर खान ने एक जल फाउंडेशन की स्थापना की है, जो सूखाग्रस्त इलाकों में पानी पंहुचाने की योजनाओं पर राज्य सरकार के साथ मिलकर काम कर रही है। इसे लेकर राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस भी आमिर की तारीफ कर चुके हैं।