मैक्स के समर्थन पर बोली आप, कॉर्पोरेट घरानों की हमदर्द

नई दिल्‍ली। दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी ने भारतीय जनता पार्टी को मैक्स अस्पताल जैसे कॉर्पोरेट घरानों का हमदर्द करार दिया है। उल्लेखनीय है कि केजरीवाल सरकार ने एक जीवित नवजात को मृत बताने और इलाज में कोताही बरतने को लेकर मैक्स अस्पताल का लाइसेंस रद्द कर दिया था। इस पर भाजपा दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद मनोज तिवारी ने कहा था कि सरकार को लाइसेंस रद्द करने का कदम नहीं उठाना चाहिए था।

max
max hospital

बता दें कि इसी सिलसिले में दिल्ली सरकार में मंत्री गोपाल राय ने पार्टी मुख्यालय पर सोमवार को आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘दिल्ली सरकार ने जनता के पक्ष में एक कड़ा फैसला लिया तो भाजपा और उनके नेताओं ख़ासकर मनोज तिवारी को उस मां से हमदर्दी होने की जगह मैक्स हॉस्पिटल जैसे कॉरपरेट मैनेजमेंट से हमदर्दी क्यों है।

वहीं मैक्स हॉस्पिटल के लाइसेंस रद्द करने का निर्णय पहली बार में नहीं लिया गया है। मैक्स हॉस्पिटल, शालीमार बाग का मैनेजमेंट लगातार अपनी मनमानी पर उतारू रहा है। ईडब्लूएस कोटे (गरीब वर्ग) के इलाज में भी मैक्स हॉस्पिटल की लापरवाही की बात रिपोर्ट में सामने आई है।’

लेकिन गोपाल राय ने कहा, ‘दिल्ली सरकार का दिल्ली के डॉक्टर जो जनता की और मरीजों की सेवा करते हैं उनके प्रति सम्मान का नज़रिया है। जो प्राइवेट अस्पताल अच्छा काम कर रहे हैं हम उनके साथ खड़े हैं, लेकिन अगर कोई अस्पताल अमानवीय व्यवहार करेगा, अस्पताल के नाम पर लूट करेगा तो उस को बख्शा नहीं जाएगा।’

वहीं इससे पहले मनोज तिवारी के बयान पर मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने रविवार को कहा, ‘मनोज तिवारी और भाजपा ने मैक्स अस्पताल का समर्थन करके अपना जमीर बेच दिया है। अगर वे चाहते तो मैक्स से सेटिंग करके तगड़ा पैसा ले सकते थे। लेकिन, फिर वह दिल्लीवालों को अपनी शक्ल नहीं दिखा पाते।’ केजरीवाल ने इस कार्रवाई को अन्य बड़े अस्पतालों के लिए सबक बताया है।