आजम और योगी की मुलाकात से हैरत में भाजपाई, सपाइयों की खुशी का ठिकाना नहीं

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजनीति में हमेशा से एक दूसरे के विरोधी रहे मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ और सपा नेता आजम खां ने आज दोस्ताना अंदाज में एक दूसरे से मुलाकात की। यहीं नहीं दोनों ने एक दूसरे का हाथ थामकर फोटो भी खिचवाई, जोकि सोशल मीडिया पर काफी तेजी के साथ वायरल हो रही है। दोनों की इस गर्मजोशी से मुलाकत को देख जहां सपाई फुले नहीं समा रहे हैं, तो वहीं भाजपाई इस मुलाकात से हैरत में पड़ गए हैं। आपको बता दें कि सपा की सरकार में आजम खां कद्दावर मंत्री रहे हैं। सपा सरकार में उनके पास आठ मंत्रालयों का कार्यभार था।

 

सपा सरकार में आजम ने जो चाहा, वही हुआ, लेकिन बीजेपी की सरकार आने के बाद चर्चा तेज हो गई थी कि अब आजम खां की मुश्किलें बढ़ जायेंगी। खासकर इस चर्चा को उस वक्त और बल मिल गया, जब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बने थे। आजम और योगी दोनों एक दूसरे के विरोधी माने जाते हैं। जनपद के भी बीजेपी और कांग्रेस के कई नेता आजम खां की शिकायतें लेकर मुख्यमंत्री से मिल चुके हैं। कुछ मामलों में शासन जांच भी करा रहा है। शिकायतकर्ताओं को कार्रवाई की भी उम्मीद है, लेकिन गुरुवार को विधानसभा सत्र के दौरान हुई आजम और योगी की मुलाकात ने सियासी हलचल पैदा कर दी।

इस मुलाकात से सपाई खुश हैं, लेकिन भाजपाई हैरान हैं। जनपद के कई बीजेपी नेता आजम खां और उनके समर्थकों पर कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। कुछ ने कस्टोडियन की जमीन को लेकर शिकायत की है तो किसी ने पंडाल की जांच कराने को मुख्यमंत्री को ज्ञापन दिया है। पानी की टंकी को लेकर भी शिकायतें की गई हैं, जिन्हें इस मुलाकात से हैरानी हुई है। बताते चलें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और पूर्व कैबिनेट मंत्री आजम खां की मुलाकात की चर्चा अधिकारियों में भी हो रही है। किसी ने फेसबुक पर वीडियो देखा तो कोई फोटो की डिमांड करता रहा। दोनो की मुलाकात का फोटो काफी वायरल हो रहा है।