डेंगू से बचाव के लिए नगर निगम ने छपवाए पम्पलेट

लखनऊ। डेंगू से बचाव के लिए पम्पलेट छपवाए गए हैं, उनको नागरिकों को जागरूक करने के लिए मोहल्लों के आवागमन के मार्गों अथवा कुछ जगहों पर चिपकाना तथा डोर-टू-डोर कूड़ा कलेक्शन करने वाले कर्मचारियों के माध्यम से प्रत्येक घरों में वितरित करने की जिम्मेदारी लखनऊ नगर निगम को दी गई है।

muncipal, pamphlet, prevent, dengue, health, dengue
dengue

नगर क्षेत्रांतर्गत जन समस्याओं, मच्छर जनित रोगों की रोकथाम, सफाई, फागिंग एवं कूड़ा निस्तारण आदि के लिए अपर नगर आयुक्त, नगर स्वास्थ्य अधिकारी, मुख्य अभियन्ता, समस्त नगर अभियन्ता, समस्त जोनल अधिकारी, पर्यावरण अभियन्ता, उद्यान अधीक्षक, पशु चिकित्साधिकारी आदि की शनिवार को समीक्षा बैठक की गई।
बैठक में स्वच्छ भारत मिशन पर भी चर्चा की गयी। स्वच्छ भारत मिशन के अन्तर्गत कराये जाने वाले समस्त कार्यों यथा-व्यक्तिगत शौचालय, सामुदायिक शौचालय का निर्माण कार्य निर्धारित लक्ष्य के अनुसार पूर्ण कराया जाना सुनिश्चित किया जाय, ताकि सम्पूर्ण नगर को मार्च-2018 तक खुले में शौच से मुक्त किया जा सके।

बैठक में उपस्थित समस्त अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि वह प्रतिदिन आईजीआरएस पोर्टल पर प्राप्त होने वाली जन शिकायतों का त्वरित एवं गुणवत्तापरक निस्तारण कराया जाना सुनिश्चित करें। यह भी निर्देशित किया गया कि यदि कहीं पानी रूका है तो उसे भी शीघ्र निकलवाने की कार्यवाही सुनिश्चित किया जाय।
समस्त अधिकारीयों को निर्देशित किया गया कि वह अपने-अपने क्षेत्रों में जहां जलजमाव हो रहा है, तत्पश्चात् वहां के फोटो लेकर डेंगू से बचाव हेतु कार्यवाही भी सुनिश्चित की जाय।

जहां भी जानवरों को पालकर डेरियां संचालित की जा रही है वहां यह देख लें कि वह गोबर आदि कूड़ा नालियों में न बहाएं और न ही वहां आस-पास एकत्रित करें। इस सम्बन्ध में पशु चिकित्साधिकारी को यह भी निर्देशित किया गया कि वह ऐसे पशुपालकों को तत्काल शहर से बाहर किये जाने हेतु आवश्यक कार्यवाही करें।
बैठक के अन्त में समस्त सफाई एवं खाद्य निरीक्षकों को निर्देशित किया गया कि यदि कोई भवन स्वामी/प्रतिष्ठान स्वामी सड़क एवं नाला/नाली में कूड़ा फेंकते हुए पाया जाय अथवा उसके भवन आदि के सामने पड़ा पाया जाय तो उसके विरुद्ध नगर निगम की सुसंगत धाराओं के अंतर्गत नोटिस/चालान की कार्यवाही की जाय।