आर्मी कैडेट कॉलेज की 109 वीं ग्रेजुएशन सेरेमनी में 64 कैडेट्स हुए पास आउट

देहरादून। देहरादून स्थित भारतीय सैन्य अकादमी में देश की रक्षा के लिए आज हुए 109 वें ग्रेजुएशन सेरेमनी में 64 कैडेट्स को समर्पित किया। फुल ड्रेस के साथ मार्च करते हुए इस कैडेट्स ने अपने अंतिम पग इस प्रशिक्षण संस्थान में भरे । सुबह आर्मी कैडेट कॉलेज की 109 वीं ग्रेजुएशन सेरेमनी के मौके पर 64 कैडेट्स को ग्रेजुएशन सेरेमनी में डिग्री दी गई।

एक साल तक गहन और कठिन प्रशिक्षण के बाद इस कैडेट्स को पास आऊट किया गया। अब ये कैडेट्स ना होकर देश की सैन्य सेवा के अधिकारी के तौर पर जाने जायेंगे।अकादमी के समादेशक लेफ्टिनेंट जनरल एसके उपाध्याय के हाथों एसीसी के कैडेट्स को जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय की डिग्री प्रदान की गई। 32 कैडेट ह्यूमिनिटीज स्ट्रीम और 32 साइंस स्ट्रीम से ग्रेजुएट बने। विंग कैडेट कैप्टन कृष्ण कुमार यादव को गोल्ड मेडल तथा कंपनी क्वार्टर मास्टर सार्जेंट जीतेंद्र सिंह को सिल्वर मेडल और कंपनी कैडेट कैप्टन रंगत सिंह को ब्रांज मेडल मिले।

कॉलेज से पासआउट होने के बाद यह कैडेट आइएमए में एक साल का प्रशिक्षण लेंगे। इससे पहले आईएमए के प्रिंसिपल नवीन कुमार ने उपलब्धि रिपोर्ट रखी। साथ ही सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन वाले कैडेट की जानकारी दी। एसीसी के इन कैडेट को सालभर तक आईएमए में ट्रेनिंग दी जाएगी। ट्रेनिंग के बाद पीओपी में अलग-अलग यूनिट में भेजा जाएगा।कमांडेंट ने सैन्य अफसर बनने की राह पर अग्रसर कैडेट्स को उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाएं दी। इस मौके पर आईएमए ब्रिगेडियर रविंद्र सिंह समेत अन्य मौजूद रहे।