उत्तराखंड विधानसभा में राष्ट्रपति पद के लिए 44 मिनट में पड़े 45 मत

देहरादून। राष्ट्रपति चुनाव के लिए उत्तराखंड विधानसभा में मतदान जारी है। अब तक 60 विधायक अपने मताधिकार का प्रयोग कर चुके हैं। खास बात यह है कि बिहार के आरजेडी विधायक वीरेंद्र कुमार सिन्हा ने भी विधानसभा पहुंचकर अपना वोट डाला। मतदान प्रक्रिया के प्रारंभ होने के 44 मिनट में 45 विधायकों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। यानी मतदान प्रक्रिया सुबह दस बजे प्रारंभ हुई और 10.45 बजे तक 44 विधायक अपने मताधिकार का प्रयोग कर चुके थे।

vote, cast, Uttarakhand, assembly, president, Assembly
uttrakhand presidential election

बता दें कि सुबह से ही विधानसभा में चुनाव की तैयारी पूरी कर ली गई थी। विधानसभा व आसपास सुरक्षा व्यवस्था कड़ी की गई। दस बजे से मतदान आरंभ हुआ। सबसे पहले सुबह 10.05 बजे पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज, वित्त मंत्री प्रकाश पंत के साथ बिशन सिंह चुफाल, विधायक राजेश शुक्ला ने वोट डाला। बिहार के विधायक वीरेंद्र कुमार सिन्हा ने भी मतदान किया। वह यहां बेटे के एडमिशन के सिलसिले में आए हुए हैं। कांग्रेस की ओर से प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह, पूर्व स्पीकर गोविंद सिंह कुंजवाल, ममता राकेश, आदेश चैहान भी वोट डाल चुके हैं।

साथ ही राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए उत्तराखंड विधानसभा में 71 विधायकों को अपने मत का प्रयोग करना है। इनमें 70 विधायक उत्तराखंड के और एक विधायक बिहार के हैं। प्रदेश के पांच लोकसभा सांसद और तीन राज्यसभा सांसद दिल्ली में मतदान करेंगे। भारत निर्वाचन आयोग की ओर से बनाए गए पर्यवेक्षक निकुंज किशोर सुंदरे मतदान के दौरान पूरी गतिविधियों पर नजर रखे हुए हैं। सचिव विधानसभा जगदीश चंद्र रिटर्निंग ऑफिसर की भूमिका में हैं। मतदान में भारत निर्वाचन आयोग की ओर से उपलब्ध कराए गए विशेष पैन का ही इस्तेमाल किया जा रहा है। अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी मस्तूदास ने बताया कि मतदान के बाद मतपेटी सील कर दी जाएगी। इसके बाद इसे मंगलवार को फ्लाइट से दिल्ली भेजा जाएगा।