बसपा को झटका, भाजपा में शामिल हुए बसपा के 4 विधायक

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) को एक बार फिर झटका लगा है। बसपा के चार विधायक सोमवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हो गए। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने बसपा के विधायकों को पार्टी कार्यालय में सदस्यता दिलाई। लखनऊ स्थित पार्टी कार्यालय में सोमवार को एक समारोह में बसपा के विधायकों महावीर राणा, रोमी साहनी, रोशन लाल वर्मा व ओम कुमार ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की।

इन चारों विधायकों पर हालांकि राज्यसभा चुनाव के दौरान क्रास वोटिंग करने का आरोप लगा था। बाद में बसपा की मुखिया मायावती ने इनको पार्टी से निलंबित कर दिया था। चारों विधायकों को पार्टी में शामिल करते हुए मौर्य ने कहा कि भाजपा की स्वीकार्यता लगातार बढ़ रही है, इसीलिए पार्टी की नीतियों से सहमत होकर लोग भाजपा में शामिल हो रहे हैं।

Keshav prasad

इस दौरान हालांकि केशव ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर जमकर निशाना साधा। खनन मंत्री गायत्री प्रसाद व पंचायती राज मंत्री राजकिशोर की बर्खास्तगी पर उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव इन मंत्रियों को बर्खास्त करके अपना दामन नहीं बचा सकते। केशव ने कहा, यदि मुख्ममंत्री अखिलेश यादव को वाकई भरोसा था कि गायत्री प्रजापति व राजकिशोर भ्रष्टाचार में लिप्त हैं तो वह अब तक चुप्पी क्यों साधे हुए थे? अवैध खनन में तीन लाख करोड़ रुपये का घोटाला होने के बाद उनकी आंख खुली है।

केशव ने कहा कि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव अपनी जिम्मेदारियों से बच नहीं सकते। नैतिकता के आधार पर उन्हें स्वयं पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की किसान यात्रा को लेकर केशव प्रसाद ने चुटकी ली। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के युवराज खाट सभा कर रहे हैं, लेकिन यदि लोगों को मुफ्त में खटिया न लेनी होती तो उनकी सभाओं में कोई नहीं आता। सपा और बसपा के सहयोग से 10 वर्ष तक शासन करने वाले राहुल आज अखिलेश के कुशासन पर चुप क्यों हैं?

मायावती पर पलटवार करते हुए, केशव ने कहा कि बसपा के नेताओं से ही जानकारी मिली है कि मायावती स्वयं चाहती हैं कि उप्र में दलितों का उत्पीड़न होता रहे, ताकि उनकी राजनीति भी चमकती रहे।