91 प्रत्याशी में 32 प्रत्याशी को जान है खतरा!

देवरिया। उत्तर प्रदेश में पांचवें चरण का मतदान सोमवार को होना है। सोमवार को होने वाले मतदान के लिए सभी राजनेता और प्रशासन ने तैयारियां पूरी कर ली है। एक तरफ पांचवें चरण के मतदान होंगे तो दूसरी तरफ राजनीतिक पार्टियों ने छठे और सांतवे चरण के मतदाताओं को लुभाने की तैयारियां शुरू कर दी है। आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है। एक तरफ राजनेता एक-दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं तो दूसरी तरफ प्रदेश के देवरिया जिले में कुछ नेता जान के खतरे की बात कह रहे हैं।

निर्वाचन के जिम्ममेदार लोगों से सुरक्षा की मांग कि है जिसमें सातों विधानसभा में कुल 91 प्रत्याशी हैं। जिसमें 32 प्रत्याशी राष्ट्रीय, राज्य स्तर से मान्यता प्राप्त दल के है। जिसमें सभी को निर्वाचन आयोग ने सभी को सुरक्षा मुहैया करा दी गई। जबकि बाकी प्रत्याशी बगैर सुरक्षा के ही मैदान में राजनीति का बिगुल फूंक रहे हैं। चुनाव आयोग का कहना है कि जो प्रत्याशी राष्ट्रीय स्तर व राज्य स्तर के प्रत्याशी है, उन्हीं को गनर सुविधा उपलब्ध रहेगी।

देवरिया जनपद के 7 विधानसभा में 4 मार्च को होने वाले चुनाव को देखते हुए निर्वाचन आयोग ने जिला निर्वाचन को निर्देश दिया है कि जिले में एक बेव कास्टिंग के केंद्र बनाए और सभी मतदान केंद्र पर उसी के जरिए निगरानी की जाए।