जानिए आपके सपने शुभ हैं या अशुभ

सपनों की अपनी रंगीन दुनिया है लोग सपने देखते भी हैं। कई लोगों के सपने पूरे भी होते हैं। लेकिन कभी आपने जानने की कोशिश की कि आपके द्वारा देखे गए सपने का शुभ-अशुभ फल आपकी जिंदगी पर क्या होता है। सपने हम हर कुछ बताती है।

DREAM

शास्त्रों की मानें तो हम जो स्वप्न देखते हैं उसका हमारे जीवन पर शुभ और अशुभ दोनों फल मिलता है। सपने हमारे जीवन में कभी खुशियों की वर्षा करती है, तो कभी किसी आशंका से ग्रस्त कर देती है। जानें स्वप्न विशेषज्ञों ने क्या बताया है सपनों के शुभ-अशुभ फल-

 

* देवी के दर्शन करना- किसी रोग से मुक्ति।

* देवी सीता- पहले कष्ट मिले फिर समृद्धि हो।

* देवी राधा को देखना- शारीरिक सुख मिले।

* देवी लक्ष्मी को देखना- धन-धन्य की प्राप्ति हो।

* दरवाजा खुला देखना – किसी बड़े से मित्रता हो।

* दरवाजा बंद होना – परेशानियां मिलना।

* खेती देखना – लापरवाह हो, संतान-प्राप्ति हो।

* भूकंप देखना – संतान को कष्ट एवं दुख हो।

* सीढ़ी देखना – बुरा संग हो।

* खाई देखना – धन एवं प्रसिद्धि मिले।

* कैंची देखना – घर में कलह हो।

* धुआं देखना – हानि एवं विवाद हो।

* रोटी खाना – पदोन्नति एवं धन बढ़े।

* प्रकाश देखना – उच्च कोटि का साधु हो।

* रुई देखना – स्वस्थ हो जाए।

* कलम देखना – महान व्यक्ति से मुलाकात हो।

* टोपी देखना – दुख दूर हो, उन्नति हो।

* बैल या गाय देखना – लाभ हो।

* घास का मैदान देखना – खूब धन एकत्र करें।

* घोड़े पर सवार होना – सरदारी या ओहदा मिले।

* लोहा देखना – किसी धनवान से लाभ हो।

* लोमड़ी देखना – किसी संबंधी से धोखा मिले।

* बाजार देखना – दरिद्रता दूर हो।

* बड़ी दीवार देखना – सम्मान मिले।

* मुर्दे का पुकारना – विपत्ति एवं दुख प्राप्त हो।

* मुर्दे से बात करना – मुराद, मनचाही इच्छा पूरी हो।

* मुर्दा देखना- बीमारी दूर होना।

* जलता मुर्दा देखना – शुभ समाचार मिलना।